एक मोलवी का वेलेंटाइन डे

हमारे प्यारे दोस्त "मौलवी" से उनके बॉस ने अपनी बीवी को वेलेन्टाइन पर देने के लिए गिफ्ट की एक दुकान से लाल गुलाब का गुलदस्ता मंगवाया.... 
मौलवी जब बॉस के लिए गुलदस्ता ले रहे थे तो अचानक उनके मन में ख्याल आया कि क्यों ना एक गुलदस्ता अपनी बीवी के लिए भी ले लूँ .... पंद्रह साल शादी को हो गए ... कभी उस बेचारी के लिए कुछ नहीं लिया ... ना शादी की सालगिरह पर ...ना उसके जन्मदिन पर .... और ना ही किसी त्योहार या ईद बरात पर .....
आटे दाल से .... बिजली गैस के बिलों से और बच्चों की स्कूल फीस से कुछ बचे तो आदमी कुछ और सोचे। ... लेकिन आज मौलवी ने हिम्मत कर ही ली ... उन्होंने बॉस के लिए एक बड़ा गुलदस्ता लिया और एक छोटा गुलदस्ता अपनी बीवी के लिए भी ले लिया..... 150 रुपये कुर्बान कर दिए ... दिल में सोचा देखा जाएगा .... वैसे भी महीने की आखरी तारीखों में एडवांस उठाना ही पड़ता है .... सैलरी तो वैसे भी 20, 22 तारीख तक खत्म हो ही जाती है ....150 और कम हो गए तो कौन सी क़यामत आ जाएगी .... बेचारी खुश हो जाएगी ....और एक तरह से प्यार का इजहार भी हो जाएगा ....
ऑफिस से मौलवी सीधे घर की ओर दौड़े .... लम्बे लम्बे कदम बढ़ाते हुए कि आज उसके चेहरे का भाव देखेंगे कि फूलों को देख कर वे कैसे शरमाती है .... कैसे मुस्कुराती है .... उसे विश्वास ही नहीं होगा कि मेरा पति मुझे इतना चाहता है .... कि मेरे लिए लाल गुलाब लाया है ... मौलवी इन्हीं सोचों में गुम घर में दाखिल हुए.... बीवी ने दरवाजा खोला तो मौलवी ने एक बनावटी मुस्कान चेहरे पे सजाई। .. बीवी ने हैरत (आश्चर्य) से देखा ...
"खैरियत तो है? क्या रास्ते में कोई मिल गई थी ... जो आज बांछे खिल रही हैं?"
मौलवी बौखला गए ...
"मुझे कौन मिलेगी .......... बस ऐसे ही हँस रहा था ...."
मौलवी ने बात आगे बढ़ाई ... फिर गुलदस्ता उसकी ओर बढ़ाते हुए बोले ...
"यह लो .....तुम्हारे लिए"
"यह क्या है?" बीवी ने मुंह बिगाड़ कर पूछा....
"लाल गुलाब ........... प्यार की निशानी ..... वेलेन्टाइन डे है ना" .... मौलवी ने एक ताबेदार शोहर की तरह एक एक शब्द पर जोर देते हुए कहा ....
"खरीद कर लाए हो या किसी बगीचे से तोड़ कर?" बीवी ने गुलदस्ते को हाथ में लेते हुए पूछा...
"कैसी बात करती हो .... बगीचे में यह कहाँ होंगे .... लाल गुलाब ..... खरीद कर लाया हूँ" मौलवी झट से बोले ...
"कितने का हैं?" बीवी ने दूसरा सवाल दागा...
"अरे छोड़ो ... पैसे वैसे को .... तुम यह देखो तुम्हारे लिए है" मौलवी ने कहा ...
"फिर भी .... कितने का है?" बीवी ने फिर वही सवाल किय...
"डेढ़ सौ रुपये का" मौलवी ने कहा ...
"डेढ़ सौ रुपये का?" बीवी की चींख निकल गई .... "तुम्हारा दिमाग खराब है... यह फूल क्या मैं और बच्चे खाएंगे? गले में डालेंगे? इनका क्या करेंगे...
अरे लाना ही था तो दो दर्जन संतरे ही ले आते .... या डेढ़ किलो सेब ले लेते ... बच्चे खाते ... पेट भरते .... अरे... और कुछ नहीं तो दो लीटर दूध ही ले आते .... बच्चे तो पीते ... इन फूलों को मैं क्या अपनी कब्र के लिए रखूँ "...
आखरी वाक्य बीवी ने गुलदस्ते को दीवार पर मारते हुए कहा ..
मौलवी भी चकरा गए .... फिर गुस्से में बोले ...
"रही ना जाहिल की जाहिल..... कभी सँतरे और पपीते से आगे न सोचना...
तुम्हें क्या पता लाल गुलाब की कीमत.... प्यार की निशानी है.... प्यार की.....गधा क्या जाने केसर का भाव.... "
अब बीवी कुछ गंभीर हो कर बोली- "अरे यह सब अमीरों के चौंचले हैं .... जिनके पेट भरे होते हैं उन्हें यह सब सूझता है .... अब जाओ .... यह वापस कर आओ .... और कोई खाने की चीज़ ले आओ ... "
मौलवी ने गुलदस्ता उठाया .... और बड़बड़ाते हुए घर से बाहर निकले ....
"सही कहा था किसी ने कि जो लस्सी से बहल जाए ....उसे शराब न दो"

Popular posts from this blog

रोहिंगय मुसलमानो की मदद के लिए तुर्क़ी ने किया बर्मा पर हमला। पढ़े पूरी खबर

Solar Panel Price For Home Use | Solar System Price For Home

बड़ी खबर: योगी ने लगाई उत्तर प्रदेश में इन जानवर की कुरबानी पर रोक। पढ़े पूरी खबर।

कट्टर संगठन तालिबान व अलक़ायदा बर्मा पर हमला करने को तैयार। पढ़े पूरी खबर

मौलाना मदनी ने दी योगी को चेतावनी कुरबानी में रुकावट बनने की कोशिश मत कर। पढ़े पूरा ब्यान

अलका ने कहा छेड़छाड़ करने वालो का लिंग काटो तो शाज़िया उतरी लिंग के बचाव में। पढ़े पूरी खबर

हिन्दू संगठनों ने पोस्टर लगाकर दी मुसलमानों को बकरा ईद ना मनाने की धमकी। अगर मनाई तो पढ़े पूरी खबर

मोदी के प्रधानमंत्री बनने से हो रहा है मुसलमानों का कत्ले आम-- अमेरिका। पढ़े पूरी खबर

30 sec love song video download whatsapp status